ऑस्ट्रेलिया ने कहा- कनाडा में निज्जर की हत्या में भारत का शामिल होना चिंताजनक

ऑस्ट्रेलिया ने कहा- निज्जर की हत्या में भारत का शामिल होना चिंताजनक

भारत और कनाडा के संबंधों में आई तल्खी के बीच ऑस्ट्रेलिया का बयान सामने आया है। ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि भारत पर कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो की ओर से लगाए गए आरोपों के मुद्दे को उसने भारत के साथ उठाया है।

भारत और कनाडा के संबंधों में आई तल्खी के बीच ऑस्ट्रेलिया का बयान सामने आया है। ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि भारत पर कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो की ओर से लगाए गए आरोपों के मुद्दे को उसने भारत के साथ उठाया है। संयुक्त राष्ट्र महासभा में भाग लेने के लिए न्यूयॉर्क पहुंची ऑस्ट्रेलियाई विदेश मंत्री पेनी वोंग ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कनाडा में हुई हत्या में भारत के शामिल होने का संदेह चिंताजनक है।

वोंग ने अपने बयान में कहा, “अभी मामले की जांच चल रही है। लेकिन जाहिर है कि ये रिपोर्ट्स चिंताजनक हैं, हम अपने सहयोगियों के साथ इस पूरे मामले को करीब से देख रहे हैं।” जब ऑस्ट्रेलियाई विदेश मंत्रीक्या ऑस्ट्रेलिया ये मुद्दा जापान के साथ भी उठाएगा क्योंकि वो क्वाड का सदस्य है? इसके जवाब में वोंग ने कहा, “एक विदेश मंत्री के तौर पर मैं आपको ये नहीं बता सकती कि हम कौन-सा मुद्दा कब और किस तरह उठाएंगे।”

उन्होंने आगे कहा, “ऑस्ट्रेलिया का रुख़ ये है कि हमारा मानना है कि देश की संप्रभुता का सम्मान किया जाना चाहिए। हमारा मानना है कि क़ानून के शासन का सम्मान किया जाना चाहिए।” जैसाकि मालूम है कि कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने सोमवार को हरदीप सिंह निज्जर की हत्या में भारत सरकार का हाथ होने की आशंका जताई थी। इसके बाद दोनों तरफ के सरकारों ने अपने-अपने राजनयिक एक-दूसरे के यहां से हटा लिए थे।

सबसे कनाडा सरकार ने एक भारतीय राजनयिक को निष्कासित कर दिया जिसके बदले में भारत ने भी एक कनाडाई राजनयिक को निष्कासित करते हुए उन्हें भारत छोड़ने के लिए पांच दिन का वक्त दिया। इतना ही नहीं भारत सरकार ने कनाडा के आरोपों को खारिज किया है और इसे बेतुका बताया है। भारत पर आरोप लगाने वाले ट्रूडो ने मंगलवार को एक और बयान में कहा कि वह भारत को उकसाना नहीं चाहते बल्कि चाहते हैं कि भारत इस मुद्दे को गंभीरता से ले।