अब ए. राजा ने सनातन को बताया HIV, RJD नेता बोले- तिलकधारियों ने भारत को गुलाम बनाया

अब ए. राजा ने बताया सनातन को HIV, राजद नेता बोले- तिलकधारियों ने भारत को गुलाम बनाया

डीएमके सांसद ए. राजा ने कहा कि सनातन पर उदयनिधि का रुख नरम था। सनातन धर्म की तुलना सामाजिक कलंक वाली बीमारियों से की जानी चाहिए।

तमिलनाडु के युवा कल्याण एवं खेल विकास मंत्री उदयनिधि स्टालिन और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे के बेटे प्रियंक खरगे का सनातन पर दिया विवादास्पद बयान पर हंगामा अभी थमा भी नहीं था कि इस पूरे मामले में ए. राजा की एंट्री हो गई। दरअसल, डीएमके सांसद ए. राजा ने सनातन की तुलना HIV और कुष्ठ रोग से की है।

जैसाकि मालूम है कि इससे पहले उदयनिधि स्टालिन ने सनातन की तुलना डेंगू, मलेरिया से की थी। उन्होंने कहा था कि सनातन का सिर्फ विरोध नहीं किया जाना चाहिए। बल्कि, इसे समाप्त ही कर देना चाहिए। उदयनिधि के इस बयान पर देशभर में सियासी बवाल मचा है। बीजेपी उदयनिधि के बयान को लेकर विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ पर निशाना साध रही है।

डीएमके सांसद ए. राजा ने कहा कि सनातन पर उदयनिधि का रुख नरम था। उन्होंने कहा, “सनातन धर्म की तुलना सामाजिक कलंक वाली बीमारियों से की जानी चाहिए। जबकि उदयनिधि ने सनातन की तुलना मलेरिया से की है।” उन्होंने कहा, “सनातन की तुलना एचआईवी और कुष्ठ रोग जैसे सामाजिक कलंक वाली बीमारियों से की जानी चाहिए।”

उधर, बिहार में सत्ताधारी गठबंधन में शामिल RJD के नेता जगदानंद ने कहा कि तिलक लगाकर घूमने वालों ने भारत को गुलाम बनाया है। उन्होंने कहा, देश में मंदिर बनाने से काम नहीं चलेगा। आरजेडी प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने बीजेपी और आरएसएस पर निशाना साधा।

उन्होंने कहा, “तिलक लगाकर घूमने वालों ने भारत को गुलाम बनाया। देश मंदिर बनाओ या मस्जिद तोड़ो से नहीं चलेगा।” कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए जगदानंद ने कहा कि देश गुलाम किस समय हुआ, क्या उस समय कर्पूरी ठाकुर, लालू प्रसाद, राम मनोहर लोहिया जैसे नेता थे। जगदानंद सिंह ने कहा कि देश में हिंदू मुस्लिम को बांटने से काम नहीं चलेगा।